What is Repeater in Networking & explain its function

Understand Repeater : Network Repeater kya hai

Network Repeater kya hai : हर operational computer या data communications network की एक specific boundary होती है जहाँ तक उसकी service जा सकती है या वो अपने signal को send कर सकता है | लेकिन कभी कभार network को new/existing होस्ट तक पहुंचने के लिए signal को आगे तक पहुंचना होता है इस तरह के case मे network रिपीटर की service use कर सकता है जो की received signal को amplifies करते हुए आगे वाले destination/receiving nodes तक data को पंहुचा देता है | 

Repeater in Networking hindi

Repeater in Networking hindi

एक wireless repeater (जिसको की wireless range एक्सटेंडर भी बोलते है ) existing signal को wireless router or wireless access point से आगे फॉरवर्ड करने के लिए rebroadcasts करता है | जब दो या ज्यादा hosts IEEE 802.11 protocol को आपस मे connect करना होता है एवं distance ज्यादा होता है तो wireless repeater को इस gap को bridge करने के लिए use करते है | Wireless repeaters को ज्यादातर homes and small ऑफिसेस मे signal range and strength इनक्रीस करने के लिए उसे करते है | 

wireless coverage को एक्सटेंड करने का एक better alternative है की secondary box को as a wireless access पॉइंट configure करो फिर LAN port से इस secondary box को primary box (router) की LAN port से wire से कनेक्ट करो and use करो |

Telecommunications, मे repeater एक electronic device है जो की signal को receives करता है and फिर higher level or higher पावर के साथ retransmits करते हुए आगे फॉरवर्ड कर देता है जिससे की signal को longer distance तक cover किया जा सके | There are several different types of repeaters; telephone रिपीटर जो की telephone लाइन मे एक एम्पलीफायर होता है , एक optical repeater is an optoelectronic सर्किट जो की light beam को optical fiber केबल मे amplify करता है and एक radio repeater जो की radio सिग्नल्स को radio retransmits करता है | 

What is Hub

What is Router and how it works 

Router Vs Modem

Hub Vs Switch

6 Comments

  1. Rajan Singh October 6, 2016
    • Amit Saxena October 6, 2016
  2. Shubh saini October 6, 2016
    • Amit Saxena October 14, 2016
  3. sumit January 17, 2017
    • Amit Saxena January 18, 2017

Leave a Reply