Difference between C and C++ programming languages

Difference between C and C++ Programming Language

आपने c and c++ programming languages के बारे मे पढ़ा हुआ है लेकिन क्या आपको पता है की दोनों programming languages मे क्या differences है | आइए जानते है दोनों के बिच क्या डिफरेंस है |

सबसे main difference है की c simple procedural language है इसलिए ये procedural programming prototype को follow करती है and classes/object को support नहीं करती जबकि C++ एक multi-prototype language है मतलब ये procedural hone के साथ साथ object oriented language भी है इसलिए ही इसको hybrid language भी कहा जाता है |

Read Also – What is C Programming Language

What is PHP Programming Language

What is JAVA Programming Language

c vs c++

इसके आलावा C एक low-level language भी मानी जाती है क्योकि difficult interpretation एवेम less user friendly होती है जबकि C++ मे low and high-level languages दोनों के फीचर्स होते है इसलिए इसको middle-level language माना जाता है |

आईये दोनों के बिच बाकी के और भी differences को देखते है –

CC++
C को Dennis Ritchie ने AT&T Bell Labs मे develop किया था C++ को Bjarne Stroustrup ने 1979 मे develop किया था
C एक structural or procedural programming language हैC++ एक object-oriented programming language है एवेम ये Polymorphism, Abstract Data Types, Encapsulation को support करती है
C मे data and functions दोनों separate and free entities होते है C++ मे data और functions दोनों object की form मे आपस मे encapsulated होते है
क्योकि C एक procedural programming language है यह एक function driven language है जबकि C++ object oriented programming होने की वजह से एक object driven language है
C function and operator overloading को support नहीं करती C++ function and operator overloading दोनों को support करती है |
C reference variables को support नहीं करती C ++ reference variables को support करती है
C मे data secure नहीं होता क्योकि C इनफार्मेशन hide support नहीं करता C++ मे data encapsulation hi help से hide होता है इसलिए data secured माना जाता है |

Leave a Reply